Why Google Penalized My Site In Hindi | Google Website Ko Penalized Kab Krta Hai

why google penalized my site in hindi

Why Google Penalized My Site In Hindi ! हेल्लो फ्रेंड्स RishabhHelpMe Blog में आपका स्वागत है, तो दोस्तों आज की पोस्ट में हम जानेगे की Google किसी भी website और blog को penalty कब देता है, साथ ही हम ये भी जानेंगे की इस तरह के penalty से कैसे बचे |

फ्रेंड्स आपके जानकारी के लिए बता दू की Google हमेसा अपने यूजर से 20 साल आगे चलता रहता है, कहने का मतलब ये है की हमारे सोचने के पहले ही वो काम पर लग जाता है, है! न कितनी कमाल की बात,

लेकिन यही कमाल की बात अच्छे अच्छे ब्लॉगर और वेबसाइट ओनर के लिए बहुत बुरा सपना बन जाता है |

हाल ही मैं Google इवेंट में गया था, जिसमे उनका कहना था की Google हर साल लाखो experiment करता है, लेकिन उनमे से कुछ ही एक्सपेरिमेंट को लोगो के सामने उजागर करता है, जो यूजर के लिए बेस्ट होता है |

Google का एक सिधान्त है, की वो हमेसा अपने यूजर को बेस्ट देना चाहता है, फिर चाहे वो result हो, या फिर performance, और ये तब possible होता है, जब एक blogger गूगल के हर policy को accept करते हुए blogging करता है |

Why Google Penalized My Site |  Google Website Ko Penalized Kab Krta Hai

Google जब कोई update लाता है, तब वो index किये हुए article को फिर से रिव्यु करता है, और जब रिव्यु के टाइम article में कुछ भी अपडेट के अनुसार नही पाया जाता है, तो उसे penalized या spam के लिस्ट में डाल दिया जाता है,

लेकिन Google कभी भी direct penalized नही करता है, बल्कि वो सबसे पहले website owner को एक mail या message करता है, ताकि आप उसे जल्द से जल्द solve कर सके,

और अगर आप गूगल के बताये गये रूल्स के अनुसार changes नही करते है, तो कुछ समय में बाद आपकी वेबसाइट को penalized कर दिया जाता है |

Google किसी भी Website को दो तरीके से Penalized करता है,

  1. Manual Action मैन्युअल एक्शन
  2. Algorithm Penalty अल्गोरिथम पेनालिटी

Manual Action का मतलब ये है, की जब हम अपनी साईट में कुछ spam करते है,

जैसे, फालतू के लिंक ऐड करना है, या फिर विजिटर को कुछ और दिखाकर किसी और वेबसाइट पर redirect करना एक्स्ट्रा एक्स्ट्रा |

लेकिन Algorithm Penalty में आपकी website को बहुत बुरा इफ़ेक्ट पड़ता है, जिसमे बहुत सारे कारण आते है, जो हम आपको निचे लेख में बताने बाले है |

22 Reason Your Website Penalized By Google In Hindi

#1 Poor mobile website

क्या आप जानते है की आपकी साईट पर 80% ऐसे ट्रैफिक होते है, जो सिर्फ मोबाइल यूजर से आते है, कहने का मतलब ये है की वेबसाइट को इस तरह से ऑप्टिमाइज़ करे की वो मोबाइल में आसानी से खुल सके, भले ही वो computer में ओपन ना हो लेकिन मोबाइल में होना बहुत जरूरी है |

#2 Broken external links

गूगल का कहना है की आप अपने वेबसाइट की सभी लिंक को up to date रखे,

ताकि यूजर को सही इनफार्मेशन मिल सके, और अगर आप ऐसा करते है, तो बहुत अच्छी बात है, नही तो आपकी वेबसाइट को penalized तो नही किया जाएगा, लेकिन रैंकिंग डाउन जरूर हो सकती है, so इस बात का ख्याल जरूर रखे |

#3 Missing the sitemap data

जब हम न्यू न्यू साईट बनाते है, तो गूगल सिर्फ और सिर्फ एक बजह से वेबसाइट और ब्लॉग के बारे में जानता है, और वो है, sitemap.

कहने का मतलब ये है की आप अपने sitemap को हमेसा up to date रखे, नही तो गूगल ये कभी नही jan पायेगा की आपके साईट में क्या improvement हुई है, या changes हुए है,

और एक बात का ध्यान रहे की हमेसा sitemap xml फॉर्म में भी बनाये, क्योकि गूगल इस तरह के डाटा को जल्दी रीड कर पाता है, साथ ही न्यू पोस्ट करते ही सर्च कंसोल में sitemap को सबमिट करे |

#4 Buying backlinks

ऐसे कई सारे bloggers है, जो अपनी साईट को कम टाइम में रैंक कराने के लिए हाई quality back-link buy करते है,

जो गूगल की नज़र में एकदम गलत है, हाँ ये हो सकता है, की backlink खरीदने के बाद आपकी पोस्ट रैंक कर जाएगी, लेकिन कुछ ही समय बाद आपकी वेबसाइट को डाउन भी कर दिया जायेगा जो आप नही चाहेंगे,

तो बेहतर है दोस्तों की आप कंटेंट पर ध्यान दे, ना की back-link पर.

back-link buy करके साईट रैंक कराना बहुत अच्छी बात है, लेकिन ये सिर्फ शोर्ट टर्म के लिए ना की long टर्म |

#5 Duplicate content

Duplicate content provide कराना गूगल की नज़र में एक गैर क़ानूनी अपराध है, और अगर आप ऐसा करते है, तो आपकी वेबसाइट के पोस्ट के साथ साथ पुरे वेबसाइट को सर्च इंजन से हाईड कर दिया जा सकता है,

so इस तरह के काम करना बंद कर दीजिये, और बेहतर होगा की आप quality कंटेंट दे |

#6 Keyword stuffing

keyword stuffing करना एक तरह से यूजर को irritated करना होता है,

ऐसे कई सारे न्यू ब्लॉगर होते है, जो एक ही कीवर्ड को बार बार यूज़ करते है, और और जहाँ पर जरूरत ना हो वहाँ पर भी यूज़ कर ही देते है, जो कीवर्ड stuffing कहलता है,

so इस तरह से कीवर्ड का यूज़ ना करे, बेहतर होगा की आप पोस्ट लिखने के बाद on page seo करे, और ऑफ़ पेज seo करे, बाकी काम गूगल कर देगा |

#7 Affiliate links all over the website.

एफिलिएट मार्केटिंग करके पैसे कमाना किसे पसंद नही, लेकिन जब यही काम आप हद से ज्यादा करने लग जाते है, तो यूजर और गूगल की नज़र में आप ब्लॉगर नही बल्कि मर्केटर लगने लगते हो |

कहने का मतलब ये की आप एफिलिएट मार्केटिंग करे, लेकिन सिर्फ उतना लिंक ऐड करे, जिससे आपकी साईट की रैंकिंग, स्पीड, और यूजर को इफेक्ट्स ना डाल पाए |

#8 More H1 tag use krna

h1 टैग एक तरह ब्लॉग का टाइटल ही होता है, जिससे हमे यूजर और गूगल को ये बताना चाहते है की इस पोस्ट में आपको क्या पढने को मिलेगा,

लेकिन कई मामलो में ये देखा गया है, की h1 टैग को दो से 3 बार यूज़ कर लिया जाता है, ताकि रैंकिंग जल्दी मिल सके but ऐसा बिलकुल भी नही है, इससे आपके साईट को penalized भी कर दिया जा सकता है, so यूज़ ओनली one h1 टैग |

#9 Loading time is better 3 second

कहते है की अगर आपकी वेबसाइट 3 सेकंड के अन्दर ओपन होती है, तो समझिये आपकी न्या पार लग गयी है,

लेकिन अगर आपकी साईट 3 से 7 सेकंड के अन्दर भी ओपन नही होती है, तो इससे आपकी साईट को बहुत बुरा इफ़ेक्ट पड़ सकता है, जैसे, दिन प्रतिदिन रैंकिंग डाउन, ट्रैफिक loss होना, और बहुत कुछ,

सिंपल कहने का मतलब ये है की गूगल जब आपकी साईट को फर्स्ट पेज पर लाता है, तो आपकी ये प्रायोरिटी बनती है, की आपकी साईट जल्दी खुले और अगर नही खुलता है, तो इससे यूजर तो नाराज़ होता है, साथ ही गूगल भी |

#10 Hacked content

गूगल ने हाल ही एक माइनर अपडेट लाया था, जिसका मतलब ये था की अब आप अपने वेबसाइट और ब्लॉग पर हैकिंग से रिलेटेड कंटेंट नही डाल सकते है,

और अगर आप गलती से डाल भी देते है, तो हो सकता है, की आपको मेल के जरिये बताया जाए, और अगर आप उसे इग्नोर करते है, तो अगले ही टाइम साईट penalized या फिर सर्च इंजन से हाईड भी हो सकता है, so इस बात का जरूर ख्याल रखे |

#11 More using outbound links

इस तरह का काम अक्सर न्यू ब्लॉगर ज्यादा करते है, यहाँ तक की मैंने भी शुरुआत में खूब किया था, because इस बात की जानकारी नही थी, की कितना लिनक्स ऐड करना चाहिए,

तो दोस्तों इस तरह का गलती आप बिलकुल भी ना करे, बेहतर होगा की आप मैक्सिमम 2 से 3 ही आउटबाउंड लिंक ऐड करे |

#12 More Ads

ये काम अक्सर वो ब्लॉगर करते है, जो सोचते है की आज ही पूरा पैसा कमा लिया जाए, जो बिलकुल गलत है, अगर आपके साईट पर massive ट्रैफिक है, तो उसका सही तरीके से यूज़ करके पैसे कमाए, लेकिन अगर आप हद से ज्यादा एड्स लगा देंगे तो यूजर इससे irritated हो जायेगा, और लोडिंग टाइम इतना बढ़ जायेगा की पेज लोड ही नही लेगा जिससे आपको बहुत नुक्सान हो सकता है, so बेहतर होगा की आप कम से कम एड्स लगाये ताकि साईट जल्दी लोड ले |

#13 Over optimizing content or website

जब हम अपनी साईट के कंटेंट और वेबसाइट को seo के चक्कर में हद से ज्यादा seo कर देते है, तो वो ओवर optimizing कहलता है, जो आपके नज़र में सही है, लेकिन गूगल की नज़र में गैर क़ानूनी so ये काम करना बंद कर दीजिये और जितना हो सके नेचुरल कंटेंट प्रोवाइड कराये, और सिंपल डिजाईन रखे, क्योकि यूजर इनफार्मेशन के लिए आते है, ना की आपकी डिजाईन देखने के लिए |

#14 Domain has bad reputation

अक्सर न्यू ब्लॉगर जब domain buy करते है, तो वो expire डोमेन के तरफ ज्यादा आकर्षित होते है, क्योकि इसमें फायदा होता है, लेकिन नुक्सान भी होता है, जिसपे वो ज्यादा ध्यान नही देते है,

Best Domain Buy Krne Ke liye यहाँ क्लिक करे

so बेहतर होगा की आप जब भी डोमेन buy करे तो सबसे पहले उस डोमेन की credibility चेक करे |

#15 Content theft

ऐसा कई बार होता है की हम दूसरी साईट का कंटेंट कॉपी या फिर स्पिन करके अपने साईट पर upload कर देते है, इस सिचुएशन में कई बार असली ओनर dmca रिपोर्ट भी कर देता है,

और अगर आप रिपोर्ट करने के बाद भी कंटेंट को रिमूव नही करते है, तो आपके साईट पर पेनालिटी लग सकती है, so स्पिन और कॉपी ना करे, और Natural Content Provide कराने की कोसिस करे |

#16 Black hat seo

क्या आप अपनी साईट को black hat seo करके टॉप में लाना पसंद करेंगे, अगर आपकी हाँ तो रुक जाईये |

black हट seo करना सही है, लेकिन ये सिर्फ शोर्ट टर्म के लिए है, long के लिए नही |

so बेहतर होगा की आप black हट seo ना करके white hat seo करे, जो गूगल को पसंद हो |

#17 Link to suspicious sites

क्या आप अपनी वेबसाइट के अन्दर किसी ऐसे साईट का लिंक ऐड करते है या किये हुए है, जो suspicious ho, मतलब खतरनाक हो,

अगर हाँ तो जितनी जल्दी हो सके रिमूव करे, क्योकि गूगल ऐसे लिंक को bad link मानता है, और जो साईट ऐसे लिंक प्रोवाइड कराता है |

और अगर आप चाहते है, की आपकी साईट पर कोई penalty ना हो तो जितनी जल्दी हो सके उसे रिमूव करे |

#18 Excessive reciprocal links

क्या आप other ब्लॉगर के साथ लिंक exchange करते है, अगर हाँ तो सावधान हो जाए, क्योकि ये एक तरह से गलत है, और गूगल ऐसे links को bad मानता है,

कहने का मतलब ये है की आप लिंक एक्सचेंज करे, लेकिन यही काम आप ज्यादा मात्रा में करते है, तो गूगल को आटोमेटिक पता लग जाता है, जो आपके साईट के लिए एकदम बुरी खबर हो सकती है |

so इस तरह के काम को कम मात्रा में करे, लाइक that डेली 2 से 3 काफी है |

#19 404 error

कल्पना कीजिये की आप गूगल पर कुछ सर्च कर रहे है, लेकिन क्लिक करते ही 404 error मिले तो कैसा लगेगा,

मेरे नज़रो में तो ये एक गलत होगा, हो सके तो मैं दुबारा उस साईट को कभी खोलू ही नही, अब आप खुद सोच सकते है, दोस्तों की इससे आपको कितना नुक्सान होगा, और अगर यही बात गूगल को पता चल जाए तो वो आपके साईट को कितना डाउन करेगा |

#20 Missing Meta Description

Meta Description क्या होता है, ये तो आप जानते ही होंगे लेकिन ऐसे कई सारे ब्लॉगर है, जो इस चीज को अवॉयड करते है, तो उनसे एक ही रिक्वेस्ट है की आप ये गलती आज के बाद ना करे,

अन्यथा आपकी website को penalized तो नही लेकिन penalized के लिस्ट में जरूर ऐड कर दिया जायेगा जिससे आपको बहुत नुक्सान हो सकता है |

#21 Robots.txt Files Issues

robots.txt एक ऐसा फाइल है, जिसके माध्यम से हम search engine को ये निर्देश देते है, की किस page को show कराना है, और किसको नही, लेकिन इस बात को अक्सर blogger ignore करते है |

#22 Website timing out again and again

फ्रेंड्स जब भी हमारी साईट डाउन होती है, तो बहुत गुस्सा आता है, क्योकि इससे यूजर और साथ साथ google भी परशान हो जाता है, और अगर यही प्रोसेस बार बार होता है, तो गूगल उस साईट को penalized भी कर सकता है,

so बेहतर होगा की आप कोई अच्छी होस्टिंग buy करे, जो 99% up-time हो |

#23 Comment Spamming

Comment Spamming करना आजकल बहुत आम हो चूका है, और ये काम न्यू ब्लॉगर back-link पाने के लिए करते है |

तो मेरा उनसे यही अनुरोध है, की आप कमेंट करे, लेकिन कमेंट में कभी भी लिंक ऐड ना करे, क्योकि इससे तो स्पामिंग होती ही है साथ ही आपकी गलत इमेज भी बनती है |

How To Solve A Penalty By Google

तो दोस्तों जैसा की हमने उपर में बताया की गूगल किस किस बजह से किसी भी साईट को पेनालिटी देता है,

लेकिन अब हम जानेगे की उस पेनालिटी से कैसे बचा जाए मीन्स solve किया जाए |

गूगल जब भी पेनालिटी देता है, तो वो कुछ समय यूजर को जरूर देता है, ताकि आप solve कर सके, और अपनी गलती को सुधर सके, इसीलिए हमने निचे में आपको वो सभी तरीके बताये है, जो हर प्रॉब्लम के लिए अलग अलग सलूशन है | 

Disavow troublesome links

Disavow tool एक ऐसा गूगल टूल है, जिसके मदद से आप स्पैम लिंक को आसानी से रिमूव कर सकते है | 

Don’t Panic

याद रहे दोस्तों की penalty अक्सर उन्ही के ब्लोग्स में ज्यादा लगते है, जिसकी site पर massive traffic हो | 

Request reconsideration

जैसा की हमने उपर में बताया था की गूगल दो तरीके से पेनालिटी देता है, जिसमे एक मैन्युअल एक्शन भी था, 

सिंपल कहने का मतलब ये है की जब आपकी साईट में कोई छोटी सी गलती होती है, तो गूगल आपको मेल करके ये बताता है की इसे फिक्स करे | 

Conclusion 

तो दोस्तों जैसा की हमने आज जाना की Google किसी भी site को penalty कब और क्यों देता है, साथ ही हमने ये भी जाना की इस तरह के penalty से कैसे बचा जाए |

अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई हो तो प्लीज इसे अपने ब्लॉगर भाइयो के साथ जरूर से जरूर शेयर करे | 

Keep Love & Keep Sharing

आपको ये भी पढना चाहिए

  1. WordPress Par Blog Kaise Banaye
  2. WordPress Install Krne Ke Baad Kya Kre
  3. WordPress Me Memory Limit Kaise Badhaye
  4. Search Console Me Couldn’t Fetch Error Fix Kaise Kre
  5. Cloudflare Se Free SSL Kaise Le
RishabhHelpMe

https://RishabhHelpMe.Com Welcome to my blog RishabhHelpMe.Com My name is Rishabh Raj, and I write posts on this blog on things related to blogging, Seo, WordPress and Make Money.

2 thoughts on “Why Google Penalized My Site In Hindi | Google Website Ko Penalized Kab Krta Hai”

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.