On Page Seo Kya Hai – What Is On Page Seo In Hindi

11
61

हेल्लो फ्रेंड्स आज हम blog के लिए सबसे जरूरी topic के बारे में बात करने बाले है जिसका नाम है on page seo तो अब सोच रहे होंगे की ये on page seo क्या होता है तो अगर आप एक न्यू blogger है तो आपको इसके बारे में जानना बहुत ही जरूरी है की on page seo क्या होता है और अपने ब्लॉग को इसके लिए कैसे optimize करते है तो आज हम आपको इसके बारे में पुरे details से बताएँगे की on page seo आखिर हमारे blog के लिए क्यों जरूरी है?

फ्रेंड्स, हम इस topic पर post लिखना जरूरी नही समझ रहा था क्योकि on page seo पर बहुत सारे post google पर already लिखा हुआ है so, मेरा लिखने का सिर्फ एक ही मकसद है की हमने सिर्फ 1 week में कैसे अपने ब्लॉग को टॉप पर लाया बस उसकी जानकारी देना मेरे लिए जरूरी है क्योकि मैंने जो problem face की अहि वो कोई और blogger न करे खासकर न्यू ब्लॉगर ना करे

My Seo Journey

क्या आप एक new blogger है, अगर हाँ तो आपने on page seo के बारे में जरूर सुना होगा, या शायद आपने नही सुना होगा, आप सोच रहे होंगे की मै ऐसा क्यों बोल रहा हु तो, आप थोडा flash back में चलिए, हम आपको details से समझाने की कोसिस करता हूँ आपको ok,,,
मुझे blogging करते हुए लघभग 5 months हो चुके है, और मै इतना experience blogger भी नही हु की हम आपको पुरे details से समझा सकते है लेकिन मैंने इस 5 months के दौरान जो अपने blogging carrier में observation किया हुए सिर्फ उसी की details दे सकता हु |
मैंने जब bloggingशुरु की थी तो इसके बारे में कुछ जानकरी नही थी बस ऐसे ही start कर दी, और लगातार post लिखता गया और लघभग 3 months में मैंने 40 के approx post लिखे बिना किसी जानकारी के, और उसे पोस्ट कर दिया, तो कहते है वो की जब तक आप कोई गलती नही करोगे उसके बिना आप सिख नही सकते है, और मैंने वो गलती कर दी थी but पता नही था |
और फिर 1 months गुजर जाने के बाद मै ये सोच रहा था की traffic क्यों नही आ रहे है, फिर मैंने research करना शुरु कर दिया की हमने गलती कहा पर की,
तब जाकर मै seo के बारे में सुना, और जैसे ही मैंने गूगल पर seo सर्च किया तो ऐसा लगा की जैसे हम समुंद्र में चले गये, मै ऐसा इसलिए बोल रहा हु क्योकि seo really में sea है अगर आपको यकीन नही आता तो आप seo में enter करके देखे आप खुद समझ जाएंगे |
अब बात आती है की मैंने गलती कहा पर की तो seo के बारे में पढता गया, पढता गया, तब जाकर पता चला की seo एक चीज पर नही बल्कि कई चीजो पर निर्भर करता है तब जाकर आपका एक post seo optimize होता है |
लेकिन मेरे पास उतना time नही था की मै पुरे seo का ज्ञान एक ही दिन में ले पाता तो मैंने सर्च किया की सबसे जरूरी चीज क्या है seo में, तो मेरे सामने सिर्फ दो चीजे आई एक on page seo, और दूसरा off page seo.

On Page Seo Kya Hota Hai

on page seo एक ऐसा फैक्टर है जिसे हम अपने ब्लॉग के पोस्ट को लिखने से लेकरpublishकरने तक जो भी optimization करते है, उसे on page seo कहते है |
 
ON PAGE SEO BLOG KE LIYE KYO JAROORI HAI
 
on page seo हमारे ब्लॉग के लिए इसलिए जरूरी है क्योकि इसके बिना आप अपने blog को और साथ ही post को सर्च इंजन में टॉप पर आ ही नही सकता ह, ये एक तरह से ब्लॉग का heart है |
 
अपने ब्लॉग पोस्ट को on page seo करने की 11 most important secret tips

#1 Keyword Research

आप कोई भी post लिखे तो keyword research करना जरूरी होता है क्यों की visitor आपके blog पर keyword की मदद से ही आते है तो ये बेहद जरूरी है की आप post लिखने से पहले keyword research करना ना भूले,

Keyword Ka Use Kaise Krna Hai

मैंने आपसे keyword use करने के लिए कहा है, लेकिन इसका मतलब ये नही की आप कही भी और कोई भी यूज़ कर देंगे बिल्कुल नही, क्योकि keyword का भी limit होता है की आप उसका use कैसे करे, नही तो आपकी एक गलती के कारन Google अपने blog को penalized भी कर सकता है,
तो simple सब्दो में ये कहे तो आप अपने blog को जितने words में लिखे है उसी के हिसाब से use करे क्योकि, keyword की density है maximum 100 words/targeted keyword, मतलब की हर 100 words में एक आपका targeted keyword होना जरूरी है |

Target Keyword

Targeted keyword का मतलब वो keyword जो आपके content को ये दर्शाता है की ये content किस keyword पर based है ताकि google आपके पोस्ट को समझ सके तभी वो आपके post को 1st pr लायेगा |
Long Tail Keyword
अक्सर इस बात से हर blogger को मन में डर होती है की keyword के चक्कर में अगर ज्यादा keyword density हो गयी तो google आपके blog को कही का नही छोड़ेगा तो content में कोण सा keyword add करे
तो short keyword से बचने के लिए आप long tail keyword का use बेफिक्र हो कर करे क्योकि इसकी कोई limit नही होती है, लेकिन short keyword use करते है तो उसकी limit होती है इसलिए आप short tail keyword की जगह long tail keyword use कर सकते है |

#2 Full Seo Optimize Url

google आपके blog का सबसे पहले url को देखता है की आपका url क्या है उससे वो पता लगाता है की आपका content किस पर है, तो अगर आप चाहते है की google आपके url को जल्दी से crawls कर ले यानी की जल्दी पढ़ ले तो आपको अपने url को जितना short रखेंगे उतना ही फायदेमंद होगा और साथ ही आपका url full optimize होना चाहिए I mean full keyword या long tail keyword होना चाहिए |
ध्यान रहे की url में फालतू के वर्ड एक भी यूज़ न हो
#3 Seo Optimize Title
इसके बाद google आपके title को read करता है की आपका post किस topic पर लिखा हुआ है क्योकि url के बाद यही एक main पार्ट है जो आपके कंटेंट को सही से या full optimize करके बताता है की “That’s based on it’s topic”
इसलिए आप title में main keyword का use करना ना भूले और title में full keyword का use न करे बल्कि long tail keyword का use करे जैसे :- मेरे इस content का title क्या होना चाहिए था कुछ इस तरह on page seo kya hota hai complete guide in hindi ok, लेकिन full keyword ka use ye hota hai :- on page seo jane or on page seo ki details to ye glt hai I think aap samjh chuke honge.
ख्याल रहे इस बात का की फुल कीवर्ड टाइटल न हो

#4 Seo Friendly Image

Google अगर किसी भी चीज को सबसे पहले read करता है तो वो है images को क्योकि google पहले उसी पर attack करता है फिर जाकर और url, टाइटल, etc.
इसलिए आप image को full optimize करे जैसे की उसका title, और alt tag लगाना न भूले वो बहुत ही जरूरी है optimization के लिए |

#5 Bold Keyword

bold keyword की जानकरी मुझे तो थी ही नही जब मैंने content writeकरने लगा दुसरे लोगो के लिए तो एक professional blogger ने मुझे suggest किया की keyword को bold जरूर करे, मैंने पूछा क्यों,
तो उनका जबाब था की बोल्ड करने से back-link बनाने में मदद मिलती है, और साथ ही google भी उस post को read करते बक्त ये देखता है की ये पोस्ट किस पर based है और वो सिर्फ bold keyword की बजह से ही पता लगा पाता है, इसलिए आप bold जरूर करे |

#6 Optimize Meta Description

Meta description is more important on your post because, ये आपके पुरे पोस्ट को full optimize करके ये बतलाता है की आपका पोस्ट किसपे लिखा हुआ है |
अगर Meta descriptionको सही नजरिये से देखा जाए तो ये हमारे ब्लॉग को rank करने में बेहद उपयोगी है, for example ;- maine अपनी लास्ट पोस्ट बिना meta description add kiye hi post ko publish kr di thi kyoki mere blog se meta description gayab ho chuka tha,
आचर्य की बात ये है की वो पोस्ट गूगल में कही भी नही दिखा, तो उस टाइम मेरे को समझ में ये आया की meta डिस्क्रिप्शन कितना जरूरी है हमारे ब्लॉग के लिए

#7 Visual Content

visual content जब मेरे ब्लॉग्गिंग के 3 months गुजर गये थे तब जाकर पता चला की हमे अपने यूजर के लिए कैसा content write करना चाहिए
इस टॉपिक को हमने तब पढ़ा जब हम seo की खोज में इधर उधर भटक रहे थे तब इसे मैंने एक इंग्लिश साईट पर रीड की थी |
आज कल के ब्लॉगर सुरुआत में ही वो पोस्ट करने लगते है जो उनको नही करना चाहिए बल्कि उसके बारे में थोडा एक्सपीरियंस लेना जरूरी है तब जाकर आप उसपे write करे लेकिन ऐसा नही होता है, जिसके कारन तरह तरह का प्रॉब्लम आनी शुरु हो जाती है |
मैंने भी शुरु के टाइम में यही किया था लेकिन जैसे ही मुझे इसके बारे में पता चला तो मैंने अपने सारे पोस्ट को back कर लिया |
क्योकि यूजर हमेसा उसी पोस्ट को रीड करते है जिसमे राइटर अपना एक्सपीरियंस शेयर करते है, जो आज के ब्लॉगर में ये नही देखा जा रहा है
इसलिए आप अपने एक्सपीरियंस के हिसाब से ही पोस्ट को write करे ताकि आपको भी लिखते बक्त ख़ुशी हो और आपके रीडर्स को |

#8 Perfect Heading

Heading is more important of your content why, because आपके ब्लॉग का टाइटल सिर्फ आपके content को दर्शाता है लेकिन heading आपके कंटेंट के जितने भी paragraph है उसे दिखाता है और साथ ही हरेक paragraph में लिखे हुए कीवर्ड, और वर्ड को बतलाता है |
इसलिए अपने हर पोस्ट में H1, H2, H3, H4, H5, H6, ये सभी heading का जरूर यूज़ करे जिसमे title सिर्फ h1 होगा बाकि सब h2 से h6 तक यूज़ होगा
सबसे जरूरी बात ये की आपके हर pages में heading होना जरूरी है |

#9 Other Post Links

अपने नेक्स्ट पोस्ट में previous post का links ऐड करना बहुत जरूरी है और इसके बहुत फायदे भी है,
  1. सबसे पहले की यूजर आपके साईट पर ज्यादा टाइम तक रुक सकेगा
  2. दूसरा आपके ब्लॉग का बोनस रेट कम होगा
  3. तीसरा बोनस रेट कम होने का मतलब 1st पेज पर आने का मौका
  4. आपका रीडर्स आपके ब्लॉग से ख़ुशी ख़ुशी विदा लेगा
  5. इसलिए अपने लास्ट पोस्ट का लिंक ऐड जरूर करे |

#10 More Important Outbound Links

outbound links का मतलब ये होता है की अपने साईट में किसी दुसरे के साईट के पोस्ट का लिनक्स ऐड करना, इससे आपके ब्लॉग को रैंक करने में थोड़ी मदद होगी और बोनस रेट भी कम होगा |
इसलिए अपने ब्लॉग के पोस्ट में आउटबाउंड लिनक्स ऐड करना बिल्कुल न भूले, क्योकि outbound links google के सामने ये दर्शाता है की आपका ब्लॉग किसी दुसरे ब्लॉग के साथ जुड़ा हुआ है इससे आपके ब्लॉग की गुणवत्ता बढ़ेगी |

#11 1500 Words More Per Post

मुझे हाल ही में एक professional blogger ने ये बात कही थी की आपका content जितना long होगा उतना ही बेटर होगा, मैंने पूछा ऐसा क्यों?
तो उनका जबाब था की अगर आप लॉन्ग पोस्ट लिखते है तो उसमे long कीवर्ड, आयेंगे, और साथ ही ज्यादा मात्रा में कीवर्ड genre-ted होगी जिससे आपका ब्लॉग और पोस्ट जल्दी से सर्च इंजन में रैंक करेगा |
और भी बहुत से फायदे है जैसे की अगर हम long post लिखते है तो user को अच्छे से समझ में आयेंगे, bonus rate कम होंगे, और google भी long content को जायदा important समझता है
लेकिन long onctent लिखने का मतलब ये नही की आप उसमे बिना मतलब के शब्द डाल दे जिससे user नाराज़ होकर चला जाए तो इस बात का ख्याल आपको रखना बहुत जरूरी है |
और इस बात का भी ख्याल रखना होगा की उसमे ज्यादा मात्रा में keyword add न हो नही तो लेने के देने पड़ जाएंगे |
मेरे हिसाब से अगर आप लॉन्ग पोस्ट लिखना चाहते है तो आप उसमे different different type ka keyword use kre to batter rahega.
इस पोस्ट में मैंने ये बताया की कैसे आप अपने पोस्ट को complete on page seo कैसे करे |
अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई हो तो प्लीज इसे शेयर करे |
You may also read now
  1. whatsapp की न्यू अपडेट के बारे में जाने
  2. मोबाइल को ऐसे सेटिंग करे की हैक न हो
  3. जिद्दी इन्सान ही इतिहास रचता है
  4. youtube चैनल स्टार्ट करे by 3 गोल्डेन टिप्स के जरिये
  5. इमेजिनेशन क्या है आपके लिए बेस्ट स्टोरी जो आपको पढना ही चाहिए

 

11 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here