What Is Social Media In Hindi | सोशल मीडिया क्या है, जाने इसके इतिहास, फायदे, नुकसान

What is Social Media in hindi- नमसकर दोस्तों Rishabhhelpme blog में आपका स्वागत है, दोस्तों आज के लेख में हम जानेंगे what is social media in hindi, जी हाँ दोस्तों, आज के आधुनिक दौर को सोशल मीडिया का दौर भी कहा जाता है क्योंकि दुनिया में लगभग सभी व्यक्ति सोशल मीडिया का इस्तेमाल करते है, यहाँ तक की कई लोग घंटो भर सोशल मीडिया से से जुड़े होते है, लेकिन आज भी ऐसे कई लोग है, जिन्हें सोशल मीडिया के बारे में जानकारी उपलब्ध है, ऐसे में हमने सोचा क्यों न एक लेख लिखा जाए जिसमे हम सोशल मीडिया से जुडी सारी इन्फॉर्मेशन दे सके, तो चलिए शुरू करते है |

What Is Social Media In Hindi | सोशल मीडिया क्या है, जाने इसके इतिहास, फायदे, नुकसान

What Is Social Media In Hindi
What Is Social Media In Hindi

सोशल मीडिया क्या है?

सोशल मीडिया एक non-traditional मीडिया है जो कि दुनिया में रहने वाले लोगों के लिए एक वर्चुअल वर्ल्ड क्रिएट करता है और इस वर्चुअल वर्ल्ड में हम इंटरनेट के माध्यम से पहुंच सकते हैं।

सोशल मीडिया के माध्यम से लोग सोशल कम्युनिकेशन करते हैं और कई अलग-अलग लोगों से आपस में जोड़ते हैं। जिस तरह हम लोगों के साथ फिजिकल कनेक्शन बनाते हैं उसी तरह हम सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों के साथ ऑनलाइन कनेक्शन बना सकते हैं।

सोशल कम्युनिकेशन करने के साथ-साथ हम इस मीडिया पर अलग-अलग चीजों के बारे में जानकारी भी प्राप्त कर सकते हैं और नई-नई चीजें भी सीख सकते हैं। कई लोग इन्हीं सोशल मीडिया के माध्यम से जानकारी प्राप्त करते हैं और सोशल मीडिया का ही उपयोग करके आर्थिक रूप से समृद्ध भी बनते हैं।

सोशल मीडिया के माध्यम से ऐसे कई विकास वाले कार्य हुए हैं, जिससे कि लोकतंत्र का भी विकास हुआ है। सोशल मीडिया के कुछ उदाहरण फेसबुक, टि्वटर, इंस्टाग्राम, स्नैपचैट, व्हाट्सएप, इत्यादि है।

सोशल मीडिया की परिभाषा

इसकी परिभाषा के अनुसार सोशल मीडिया एक वेब आधारित कम्युनिकेशन टूल है जो लोगों को आपस में जोड़ने, अलग-अलग प्रकार के इंफॉर्मेशन शेयर करने, और क्रिएटिव चीजें करने की अनुमति प्रदान करता है।

सोशल मीडिया का इतिहास

चलिए अब थोड़ा पीछे चलते हैं और सोशल मीडिया का इतिहास समझते हैं। तो अगर हम बात करें कि दुनिया का पहला सोशल मीडिया क्या था तो उसका उत्तर है Talkomatic। जी हां, दोस्तों इसकी शुरुआत सन 1973 में Dave Wooly, Douglas Brown ने मिलकर की थी। जिसके माध्यम से लोग रियल टाइम एक स्मॉल ग्रुप में एक दूसरे के साथ कम्युनिकेट कर सकते थे।

उसके बाद दुनिया का दूसरा सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म Andrew द्वारा 1997 में SixDegrees बनाया गया था। लेकिन उस समय सोशल मीडिया का अधिक प्रचलन ना होने के कारण इसे 2001 में ही बंद कर दिया गया।

इसके बाद 2002 में लिंकडइन सोशल मीडिया ऐप की शुरुआत हुई जिसके माध्यम से लोग अपने करियर की पहचान कर सकते थे और प्रोफेशनल लोगों के साथ जुड़ सकते थे। और यह सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म आज तक चल रहा है और काफी नाम भी कमा चुका है।

इसके कुछ समय बाद 2004 में फेसबुक सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म की शुरुआत हुई जिसकी स्थापना मार्क जुगर बर्ग ने की थी। यह सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक ऐसा प्लेटफॉर्म था जहां पर दुनिया के सभी लोग आपस में जुड़ सकते थे और बातचीत कर सकते थे। इसके साथ ही वे अपनी फोटो शेयर कर सकते थे या अपनी अन्य चीजें भी साझा कर सकते थे।

इसके बाद धीरे-धीरे अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म भी लांच हुए जैसे इंस्टाग्राम व्हाट्सएप ट्विटर, इत्यादि।

सोशल मीडिया के प्रकार

सोशल मीडिया के कई अलग-अलग प्रकार हैं जिनकी विस्तार पूर्वक जानकारी नीचे बताई गई है।

सोशल नेटवर्क्स

सोशल नेटवर्क्स का उद्देश्य एक दूसरे को जोड़ना और आपस में जानकारी विचार और अलग-अलग आइडियाज साझा करना है। सोशल नेटवर्क का मुख्य फोकस User पर होता है। इसलिए सोशल नेटवर्क्स User के प्रोफाइल के अनुसार ही उसे उनके रुचियां वाले अन्य User की पहचान करने में मदद करती है और उन्हें उसी प्रकार के Content भी प्रदान करती है। सोशल नेटवर्क का सबसे अच्छा उदाहरण फेसबुक और लिंकडइन है।

मीडिया शेयरिंग नेटवर्क

मीडिया शेयरिंग नेटवर्क का मुख्य Focus content पर होता है। ऐसे Network Users को उसी तरह के कंटेंट दिखाते हैं जो वह देखना चाहते हैं। जैसे – You tube मीडिया शेयरिंग नेटवर्क का एक अच्छा उदाहरण हो सकता है जोकि अपने Users को उन लोगों के Content दिखाने की कोशिश करते हैं जो अक्सर Users अपने प्रोफाइल के माध्यम से देखते हैं।

टिक टॉक और इंस्टाग्राम भी मीडिया शेयरिंग नेटवर्क का अच्छा उदाहरण हो सकता है।

कम्युनिटी बेस्ड नेटवर्क

इसे हम हिंदी में समुदाय आधारित नेटवर्क भी कह सकते हैं जो आमतौर पर डिस्कशन पर फोकस करता है और अपने Users को blog, Forum प्रदान करता है। Users अगर इन नेटवर्क के माध्यम से कोई भी प्रश्न पूछते हैं तो अलग-अलग लोग उस पर टिप्पणी करते हैं और Discussion भी करते हैं। Raddit, quora, इत्यादि Community based networks के उदाहरण है।

रिव्यू मीडिया नेटवर्क

इन नेटवर्क का फोकस आमतौर पर किसी भी प्रोडक्ट या सर्विस पर रिव्यु करना होता है। जैसे yelp पर Users Visibility बढ़ाने के लिए रेस्टोरेंट, डेंटिस्ट, बार, ब्युटि पार्लर, इत्यादि पर Review लिख सकते हैं।

कंटेंट क्यूरेशन नेटवर्क्स

यह सोशल मीडिया का एक ऐसा प्रकार है जो मुख्य रूप से ट्रेंडिंग कंटेंट खोजने या डिस्कस करने पर फोकस करता है। Pinterest और Flip board कंटेंट क्रिएशन नेटवर्क्स के एक अच्छे उदाहरण हैं क्योंकि इस प्लेटफॉर्म के माध्यम से अलग-अलग ब्रांड्स के बारे में भी जानकारी मिलती है और ट्रेंडिंग Content भी प्राप्त होते हैं।

ब्लॉगिंग एंड पब्लिशिंग नेटवर्क्स

इन सोशल मीडिया नेटवर्क्स का मुख्य फोकस लोगों को अलग-अलग टॉपिक्स पर सही जानकारियां प्रदान करना है। लोग इन नेटवर्क के माध्यम से अपनी वेबसाइट क्रिएट करते हैं और अलग-अलग टॉपिक पर Content पब्लिश करके लोगों को इंफॉर्मेशन प्रदान करते हैं। WordPress, Blogger, Tumbler, इत्यादि इस नेटवर्क के मुख्य उदाहरण है।

सोशल मीडिया के फायदे

What is social Media in Hindi जान लेने के बाद चलिए अब हम सोशल मीडिया के फायदे के बारे में भी जान लेते हैं।

  • सोशल मीडिया नेटवर्क के माध्यम से हम अलग-अलग लोगों के साथ जुड़ सकते हैं और दुनिया में किन्ही भी व्यक्तियों से बात कर सकते हैं।
  • इन नेटवर्क के माध्यम से हम शिक्षा के क्षेत्र में भी काफी आगे बढ़ सकते हैं क्योंकि इसी सोशल मीडिया नेटवर्क का इस्तेमाल करके टीचर बच्चों को ऑनलाइन पढ़ा सकता है और बच्चे घर बैठे ही काफी कुछ सीख सकते हैं।
  • सोशल मीडिया के माध्यम से दुनिया में किसी भी चीजों को सीखा जा सकता है और उसे प्रेक्टिस किया जा सकता है।
  • सोशल मीडिया के माध्यम से सामाजिक आर्थिक या अन्य टॉपिक पर भी Awareness मिलती है जिससे कि हम सही तथ्यों को जान पाते हैं।
  • सोशल मीडिया पैसे कमाने का भी एक अच्छा जरिया है क्योंकि आज कई लोग सोशल मीडिया पर ही अलग-अलग तरह के कंटेंटप्रोवाइड करके और लोगों को अपने प्रोडक्ट और सर्विस के बारे में बता कर के अच्छे पैसे कमा रहे हैं।

सोशल मीडिया का नुकसान

जहां सोशल मीडिया के कई सारे फायदे हैं वहीं इसके कुछ नुकसान भी हैं। जो कि इस प्रकार है

  • सोशल मीडिया पर लोग कुछ ज्यादा ही एक्टिव रहते हैं और कई बार लोगों को इसकी लत लग जाती है जिसके कारण वह अपने सभी काम को छोड़कर केवल सोशल मीडिया ही स्क्रॉल करने लग जाते हैं।
  • सोशल मीडिया पर लोग अकाउंट बनाते हैं जहां पर हमें अपनी निजी जानकारियां भी डालनी पड़ती है। अब ऐसे में अगर सोशल मीडिया हैक हो जाता है तो Users के Personal Data भी हैक हो सकता है और Users को काफी नुकसान भी हो सकता है।
  • सोशल मीडिया के माध्यम से जहां लोग चीजों के बारे में Aware होते हैं वहीं कई बार इन प्लेटफार्म पर Fake News भी बहुत तेजी से फैल जाती है जिसके कारण गलत जानकारियां लोगों तक पहुंच जाती है।
  • इन नेटवर्क्स पर कुछ Adult content भी आते हैं जिसे बच्चे देखते हैं। और कई बार इस तरह के कोंटेक्ट का गलत इस्तेमाल भी कर लिया जाता है। हालांकि सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म इन चीजों को बढ़ावा देने से रोक रही है।
  • सोशल मीडिया लोगों को काफी ज्यादा Distract भी करता है। जैसे कई बार लोग सुबह उठते ही सोशल मीडिया scroll करने लग जाते हैं जिससे कई बार जीवन में नकारात्मकता भी फैलती है।

निष्कर्ष

आज के इस लेख में हमने What is social media in Hindi के बारे में जानकारी प्राप्त की है। उम्मीद है कि इस लेख के माध्यम से आपको सोशल मीडिया की बेसिक जानकारी मिल पाई होगी। यदि आप सोशल मीडिया के बारे में और भी जानकारी पाना चाहते हैं तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं। जानकारी अच्छी लगी हो तो कृपया इस लेख को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें।

सोशल मीडिया क्या है | FAQ

Q1. सोशल मीडिया के फायदे क्या है ?

सोशल मीडिया का सबसे बड़ा फायदा ये है की अगर आप इसे सही चीजो के लिए इस्तेमाल करे तो, इसकी मदद से आप महीने के लाखो रुपये कमा सकते है |

Q2. सोशल मीडिया का नुकसान क्या है ?

सोशल मीडिया का सबसे बड़ा नुकसान यही है की अगर आप इसे जरूरत से ज्यादा इस्तेमाल करने लगेगे तो आपको इसकी लत लग सकती है, जो आपके लिए काफी नुकसान दायक हो सकता है |

Q3. सोशल मीडिया की शुरुआत कब हुई ?

सोशल मीडिया की सुरुआत 2000 सन में हुई थी |

Q4. सोशल मीडिया कितने प्रकार के होते है ?

सोशल मीडिया सात प्रकार के होते है |
1. सोशल रिव्यु साइट।
2. डिस्कशन साइट् ।
3. वीडियो होस्टिंग साइट।
4. सोशल नेटवर्किंग साइट।
5. शेयरिंग इकॉनमी नेटवर्क्स ।
6. कम्युनिटी ब्लॉग।
7. इमेज शेयरिंग साइटें।

Leave a Comment